किसी भी समाज का विकास, देश के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है । परन्तु विकास ऐसा नहीं हो सकता की समाज का एक वर्ग पंच सितार होटल में रोज खाना खाता हो और दूसरे को एक वक्त की रोटी भी उपलब्ध न होती हो । किसी भी समाज का विकास अर्थात समाज के प्रत्येक वर्ग का विकास जिसमे आमिर, गरीब, मध्यमवर्गी सभी श्रेणी के लोगो का समावेश होता है ।

 

वैसे तो इस प्रकार के समाज की कल्पना भारत का प्रत्येक समाज करता है परन्तु यह एकाएक संभव नहीं । ऐसे में राव राजपूत परिवार निम्नलिखि बिंदुओं द्वारा समाज के विकास हेतु लोगो से अमल में लाने की प्रार्थना करता है:

 

  • अधिक से अधिक सामूहिक विवाह का प्रस्ताव
  • समाज की जागरूकता एवं रुपरेखा हेतु बुजुर्गो व् अनुभवी समाजसेवियों का चिंतन
  • समाज के बहुसंख्यक आबादी वाले शहरो में सामूहिक भवन का निर्माण(तदुपरांत संरक्षण)
  • भारत के मुख्य शैक्षणिक शहरो में समाज के छात्रों हेतु छात्रावासों का निर्माण(तदुपरांत संरक्षण)
  • अनिवार्य तौर पर वार्षिक सम्मलेन
  • समाज की युवा शक्ति को प्रोत्साहन 
  • महिला विकास हेतु जागरूकता 

सूचना - समाज के विकास हेतु आपके पास भी किसी भी प्रकार का विचार आपके संज्ञान में हो तो तुरंत संपर्क करे